मथुरा जनपद में जिला मुख्यालय से लगभग 14 कि0मी0 की दूरी पर गोकुल-महावन मार्ग पर रमण-रेती के निकट रसखान की समाधि स्थित है। भक्ति सम्प्रदाय से सम्बन्धित महाकवि रसखान मुसलमान होते हुये भी अपना सम्पूर्ण जीवन श्री कृश्ण की आराधना में समर्पित कर दिया था। बारह आयताकार स्तम्भों पर आधारित लाल बलुये पत्थर से समाधि का निर्माण किया गया है।

All rights reserved Digital Marketing by ETL Labs.