लखनऊ नगर के कैसरबाग बारादरी के समीप स्थित विषाल भवन रोषन-उद्-दौला कोठी के नाम से जाना जाता है। कुछ लोग इसे पुरानी कचहरी के नाम से भी जानते हैं। इसका निर्माण नासिरूद्दीन हैदर (1827-1837) के वजीर रोषनुद्दौला द्वारा करवाया गया था।  कालान्तर में अवध के नवाब वाजिद अली षाह ने इस भवन को अपने अधिकार में ले लिया और इसका नाम ‘कैसरबाग पसन्द’ रखा।  इस भवन में अवध वास्तुकला की सभी विषेशताएॅ परिलक्षित होती हैं।

All rights reserved Digital Marketing by ETL Labs.