रूसी कलाकारों द्वारा प्रस्तुत रामलीला का संक्षिप्त दृश्य
जानकारी।
1) सीता स्वयंवर
2) राम का अयोध्या में स्वागत
3)रानी कैकयी का वर मांगना
4) राम लक्ष्मण सीता वन गमन
5) सीता हरण
6) राम हनुमान भेंट
7)लंका में सीता
8) हनुमान का लंका जाना
9) राम रावण युद्ध
राम सीता का पुनर्मिलन
10) अयोध्या वापस लौटने का दृश्य
(रामलीला का प्रारंभिक दृश्य सीता स्वयंवर का है जहां राजा जनक, रानियों सहित कई योद्धा विराजमान है। राम के शिव धनुष भंजन के बाद राम का अयोध्या आगमन और राजा दशरथ का प्रसन्नता से राम को राजपाट सौंपने की घोषणा ने रानी कैकयी को वरदान मांगने को विवश किया। राजा दशरथ का शोकाकुल होना और फिर आज्ञा लेकर राम,लक्ष्मण और सीता का वन गमन दृश्य बहुत मनभावन एवं संवेदनात्मक बन पड़ा है। वन की सुंदरता एवं सोने के हिरण से प्रभावित सीता राम से हिरण लाने का निवेदन और फिर रावण द्वारा सीता हरण किया जाना है। वन में भटकते हुए अचानक हनुमान और सुग्रीव से राम का मिलना और सीता हरण का अंदाजा लगना आकर्षक है। सीता का रावण के राज्य में बंदी होना, हनुमान सीता की खोज में लंका जाते हैं और राम की अंगुठी दिखाना मन मोहित करता है। राम और रावण का भयानक युद्ध भी रूसी कलाकारों की रामलीला का आकर्षक स्वरूप है। अंत में सत्य की जीत के रूप में राम का विजय अभियान और अयोध्या लौटने का दृश्य इस रामलीला को नई बुलंदियों पर लाकर खड़ा करता है।

All rights reserved Digital Marketing by ETL Labs.